पाकिस्तान: हिन्दू छात्रा ने शादी करने से किया मना, तो ..मौत के बाद भी नही मिला इन्साफ !

पाकिस्तान के सिंध प्रांत में संदिग्ध परिस्थितियों में मृत पाई गई हिंदू छात्रा नमृता चंदानी के मामले की जांच के लिए गठित न्यायिक आयोग ने अपनी रिपोर्ट तैयार कर ली है। आयोग ने दावा किया कि डेंटल कालेज की हिंदू छात्रा ने अपने हॉस्टल में खुदकुशी की थी। आयोग ने हत्या की बात को सिरे से खारिज किया है

नवंबर में आई अंतिम पोस्टमार्टम रिपोर्ट से यह उजागर हुआ था कि नमृता की दुष्कर्म के बाद हत्या की गई थी। सिंध प्रांत के घोटकी जिले की रहने वाली नमृता लरकाना के आसिफा डेंटल कालेज में पढ़ाई कर रही थी। 16 सितंबर को वह हॉस्टल के कमरे फंदे से झूलती हुई मिली थी।

सूत्रों का कहना है कि जांच आयोग ने 17 पेज की अपनी रिपोर्ट सिंध प्रांत के गृह विभाग के पास भेज दी है। आयोग ने कहा कि नमृता अपने एक दोस्त की ओर से शादी का प्रस्ताव ठुकराए जाने के चलते बेहद तनाव में थी। तनाव और हताशा के चलते उसने आत्महत्या की थी।

लरकाना के जिला और सेशन जज की अध्यक्षता वाले इस आयोग ने चश्मदीदों समेत डेंटल कालेज के छात्रों, शिक्षकों और स्टाफ से पूछताछ के आधार पर यह रिपोर्ट तैयार की है। आयोग ने पुलिस जांच, पोस्टमार्टम और डीएनए रिपोर्ट की भी समीक्षा की। इसके अलावा नमृता के मोबाइल फोन और लैपटॉप के साथ ही संदिग्धों व अन्य साक्ष्यों के फारेंसिक डाटा को भी खंगाला गया।


Source: Yash Bharat

CATEGORIES

COMMENTS

Wordpress (0)
Disqus ( )